राज्य

कर्नाटक का हिजाब विवाद का असर अब बेगूसराय तक पहुंच गया ।बैंक कर्मचारियों ने हिजाब पहनने वाली लड़की को रुपए देने से किया इनकार

हिजाब का विवाद अब बिहार तक पहुंच चुका है। यह घटना बेगूसराय के मंसूरचक गांव मे स्थित यूको नामक बैंक की है जहां पर एक लड़की जिसका खाता इसी बैंक मे है अपने खाते से रुपए निकालने के लिए गई लड़की हिजाब मे थी। बैंक के कर्मचारियों पर आरोप लगाया गया है कि उन्होंने इस हिजाब वाली लड़की से हिजाब उतारने के लिए कहा। साथ ही साथ आरोप यह भी है कि उन्होंने हिजाब ना उतारने पर बैंक से रुपए ना देने की धमकी भी दी।

Advertisement

इस पूरी घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर लगातार वायरल हो रहा है। उस वीडियो में लड़की के पिता जी यह कहते नजर आ रहे हैं कि कर्नाटक की घटना के बाद ऐसा किया जा रहा है क्योंकि पहले भी यह बच्चियां इसी तरह हिजाब मे ही बैंक आती थी। और कैश डिपोजिट करवा कर ले भी जाती थी। लेकिन पहले कभी ऐसी दिक्कत नहीं हुई थी।

वीडियो में लड़की के पिता बैंक के कर्मियों से अमुक नोटिस की मांग कर रहे हैं जिसके मुताबिक हिजाब पहनने वाले खाताधारक को कैश नहीं देना है। और बैंक कर्मचारी ऐसा कोई भी नोटिस दिखाने में असमर्थ दिखाई दे रहे हैं। लड़की के पिता का कहना है कि अगर नोटिस नहीं है तो लिखकर ही दे दिया जाय कि हिजाब पहननेवाली खाताधारक को पैसा नहीं दे सकते।

Advertisement

लेकिन लड़की और उसके पिता के द्वारा किए गए किसी भी सवाल का जवाब बैंक कर्मचारियों के पास नहीं था। वो लड़की को केवल वीडियो बनाने से रोकने की कोशिश किए जा रहे थे।

आपको बता दें कि आज तक की एक रिपोर्ट के हवाले सेयह मामला 10 फरवरी का है लेकिन इसका विडियो सोशल मीडिया पर अब वायरल हुआ है। यह मामला मंसूरचक प्रखंड के कस्तूरी गांव का है यहां निवासी मोहम्मद मतीन आलम की बेटी शवा तबस्सुम 10 फरवरी को मंसूरचक मे स्थित यूको बैंक में पैसा निकालने के लिए गई थीं।

शवा का बताती है कि जब उन्होंने निकासी फॉर्म भर दिया और उसके बाद जब उनका नंबर आया तो बैंक कैशियर ने कहा कि हिजाब को हटाने के बाद ही रुपया दिया जाएगा। शवा ने इसका विरोध किया और कहा कि मैं हिजाब नहीं हटाऊंगी और पैसा लेकर जाऊंगी। गौरतलब है काफी विवाद के बाद भी शवा को पैसे नहीं दिए गए और उसके बाद शव। ने अपने पिता और भाई को बुलाया। जिसके बाद विवाद हुआ और पैसा दे दिया गया। इस छात्रा ने यह कहा कि ऐसा मामला पहले कभी नहीं हुआ था।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
x