चुनाव

गोवा: पार्टी ने नहीं की मदद, यह मेरी ख़ुद की जीत, भाजपा कार्यकर्ताओं ने मेरा नहीं विपक्ष का साथ दिया- भाजपा प्रत्याशी

गोवा की राजधानी पणजी से भाजपा के ‘अतानासियो मोनसेरेट’ ने निर्दलीय उम्मीदवार ‘उत्पल पर्रिकर’ को 674 मतों से हरा कर जीत हासिल की है. इस जीत के बाद ‘अतानासियो मोनसेरेट’ ने भाजपा को जीत का श्रेय ना देते हुए कहा कि, “पार्टी ने मेरी कोई मदद नहीं की ये मेरी खुद की जीत है।”

Advertisement

बता दें कि ‘उत्पल पर्रिकर’ गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके मनोहर पर्रिकर के बेटे है। उन्हें निर्दलीय चुनाव लड़ना पड़ा क्योंकि भाजपा ने उन्हें टिकट नहीं दिया था। वही बात करें ‘अतानासियो मोनसेरेट’ की तो उन्होंने 2019 में कांग्रेस छोड़ भाजपा का हाथ थामा था।

जीत के बाद अतानासियो का कहना है कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनका साथ ना देके विपक्ष के लिए काम किया, और उन्होंने यह सीट अपने कार्यकर्ताओं और समर्थकों की बदौलत जीती है। भाजपा कार्यकर्ताओं ने अभी भी मुझे स्वीकार नहीं किया लेकिन पणजी के लोग मेरे साथ खड़े रहे।

Advertisement

आपको बता दें कि भाजपा ने गोवा से 20 सीटें जीती हैं, और बहुमत के लिए 21 सीट की जरूरत होगी। अब देखना ये है कि भाजपा किसी पार्टी को साथ लेकर सरकार बनाती है, या निर्दलीय को जोड़कर सत्ता में वापसी करती है।

Goa: Party did not help, it is my own victory, BJP workers supported the opposition, not mine – BJP candidate

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
x