राजनीती

राम दरबार प्रवेश द्वार बुलडोजर से हुआ ध्वस्त, तो BJP और कांग्रेस आए आमने-सामने

एक बार फिर से राजस्थान में पॉलिटिक्स उफान पर आ चुकी है दरअसल सालासर सुजानगढ़ मार्ग पर राम दरबार लगे प्रवेश द्वार को बुलडोजर से ध्वस्त कर दिया गया है जिसके बाद अलग-अलग पॉलीटिशियन अपनी अलग-अलग राय दे रहे हैं और यह मामला विधानसभा तक पहुंच चुका है .

Advertisement

भगवान की मूर्ति हटाने पर बोले डॉक्टर सीपी जोशी


स्पीकर डॉ. सीपी जोशी ने कहा कि केंद्र सरकार से जुड़े मुद्दे पर राज्य विधानसभा में चर्चा नहीं हो सकती है. उन्होंने कहा कि यह मामला एनएचएआई का है. जोशी ने कहा कि जिस तरह से भगवान की मूर्ति हटाई वह दुर्भाग्यपूर्ण है ऐसा बिल्कुल नहीं करना चाहिए था और ऐसा बिल्कुल होना भी नहीं चाहिए।आपको बता दें कि उन्होंने आगे यह भी कहा कि उनको बोलने की अनुमति देने से इनकार कर दिया कि केंद्र सरकार से जुड़े मुद्दे पर राज्य विधानसभा में चर्चा नहीं हो सकती है. उन्होंने कहा कि यह मामला एनएचएआई का है और उसी के ठेकेदार ने इस तरीके से मूर्ति हटाई.

BJP ने इसे बताया हिंदू धर्म का अपमान

एक तरफ यहां चल रहा है तो वही दूसरी तरफ बीजेपी इसे हिन्दू धर्म का अपमान बताते हुए सरकार पर एकजुट होकर हमला बोल रही है. बीजेपी विधायक वासुदेव देवनानी ने कहा कि यह हिंदू विरोधी गहलोत सरकार है. इन्होंने हिंदुओं की भावनाओं का अपमान किया है और सरकार चुप्पी साधे हुए है. उन्होंने कहा कि ‘द कश्मीर फाइल्स’ फिल्म मामले पर भी सरकार का इसी तरह का रुख सामने आया था. देवनानी ने कहा कि कांग्रेस अपने कर्मों से ही डूब रही है.

Advertisement

आपको बता दें कि इस मामले पर कांग्रेस सोमवार को बचाव के साथ ही आक्रमक मुद्रा में भी नजर आई. उन्होंने बताया कि जो प्रवेश द्वार था उसका दिल्ली के एक एनजीओ ने निर्माण करवाया था. जब यह बनाया गया था तब रोड डबल लेन थी और अब सड़क फोरलेन होगी. इसी कारण से उस प्रवेश द्वार को हटाया गया है.


प्रताप सिंह ने कहा भगवान राम है सबके मालिक

कैबिनेट मंत्री प्रतापसिंह ने बयान देते हुए कहा कि भगवान राम हमारे सब के मालिक है और भगवान राम का हम रोज सम्मान करते हैं. वहां जाम लगने के चलते सड़क चौड़ीकरण का काम चल रहा है लेकिन मूर्ति को सम्मान के साथ उतारकर गेट हटाना चाहिए था. आपको बता दें कि गहलोत सरकार के प्रताप सिंह ने यह भी बताया है कि वह आने वाले समय में इस गेट का निर्माण करेंगे

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
x